दिल्ली-एनसीआर खबर

अजित डोभाल ने दिल्ली हिंसा पर RSS और गृह मंत्री अमित शाह का नाम लेने से रोका

दिल्ली -दिल्ली में नागरिकता संशोधन क़ानून को लेकर भड़की सांप्रदायिक हिंसा में अब तक 26लोगों की जान जा चुकी है.तीन दिन बाद भी हालात सामान्य नहीं हो पाए हैं. बुधवार को एक तरफ़ हाई कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को फटकार लगाई तो दूसरी तरफ़ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल उत्तर-पूर्वी दिल्ली के प्रभावित इलाक़ों में गए और लोगों से मुलाक़ात की.अजित डोभाल से एक मुसलमान बुज़ुर्ग ने कहा कि यमुना पार के मुसलमानों पर ज़ुल्म किया गया है. इसी दौरान उन्होंने आरएसएस और अमित शाह का नाम लिया तो डोभाल ने कहा कि उतना ही बोलिए जितना मेरे कान की ज़रूरत हो. उस व्यक्ति ने कहा कि जहां मुसलमान कम हैं वहां उनके साथ अत्याचार हो रहा है लेकिन हमने किसी हिन्दू पर ज़ुल्म नहीं होने दिया. उन्होंने कहा, ”आरएसएस और अमित शाह के कहने पर सब कुछ हुआ है.” इस पर अजित डोभाल ने उन्हें रोकने की कोशिश की लेकिन वो बोलते रहे. बाद में अजित डोभाल वहां से चले गए.इसी क्रम में अजित डोभाल से एक मुसलमान लड़की ने रोते हुए कहा, ”हमलोग यहां सुरक्षित नहीं हैं. दुकाने जलाई गईं. हम स्टूडेंट हैं और पढ़ाई नहीं कर पा रहे. पुलिस अपना काम नहीं कर रही है. हम बिल्कुल डरे हुए हैं. हम रात में सो नहीं पा रहे हैं सर.”इसके जवाब में अजित डोभाल ने कहा, ”अब आप चिंत मत कीजिए. अब पुलिस काम करेगी. मैं गृहमंत्री और प्रधानमंत्री के निर्देश पर यहां आया हूं. आप इत्मीनान रखिए. इंशाअल्लाह सब ठीक होगा. टेंशन मत लीजिए. हम एक दूसरे की समस्याएं बढ़ाएं नहीं बल्कि सुलझाएं.”अजित डोभाल ने लोगों से मिलकर उनकी रक्षा को लेकर आश्वस्त किया और कहा कि किसी को डरने की ज़रूरत नहीं है. डोभाल ने कहा, ”मेरा संदेश सभी के लिए है. यहां कोई दुश्मन नहीं है. जो अपने देश से प्यार करते हैं, समाज से प्रेम करते हैं, पड़ोसी का भला चाहते हैं उन सभी को प्रेम से रहना चाहिए. यहां सभी एकता के साथ रहते हैं और कोई किसी का दुश्मन नहीं है. कुछ असामाजिक तत्व हैं और हम उनके साथ सख़्ती से निपटेंगे. पुलिस अपना काम करेगी. इंशाअल्लाह यहां अमन होगा.”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close